Quote

लोकसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश में120 किलो सोना बरामद

गाजियाबाद : उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव से पहले 120 किलो सोना बरामद हुआ है। पुलिस ने एक कार से सोने की इतनी बड़ी खेप बरामद हुई है। उत्तर प्रदेश में सोना की बरामदगी का यह सबसे बड़ा मामला है। सोना का मूल्य करीब 38 करोड़ रुपये है। जिस कार से इतनी बड़ी मात्रा में सोना बरामद हुआ है, उसमें दो सुरक्षा गार्ड भी मौजूद थे। मीडिया को इस मामले से पूरी तरह दूर रखा जा रहा है। पुलिस जांच में जुट गयी है कि कार में मौजूद दोनों सुरक्षा गार्ड किसके हैं।

Quote

मायावती ने कहा है कि वोट की खातिर मोदी सरकार छुपा रही है बेरोजगारी एवं गरीबी के आंकड़े

लखनऊ : बसपा सुप्रीमो मायावती ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर ट्वीट कर हमला बोला। मायावती ने आज ट्वीट किया- नरेंद्र मोदी सरकार बढ़ती बेरोजगारी एवं गरीबी, श्रमिकों की दुर्दशा और किसानों की बदहाली संबंधी सरकारी आंकड़े वोट की खातिर छिपाये हुए है।

मायावती ने कहा, “राफेल सौदे की गोपनीय फाइल यदि चोरी हो गई तो गम नहीं, किंतु देश में रोजगार की घटती दर और बढ़ती बेरोजगारी एवं गरीबी, श्रमिकों की दुर्दशा, किसानों की बदहाली आदि के सरकारी आंकड़े पब्लिक (सार्वजनिक) नहीं होने चाहिये।” उन्होंने कहा, “वोट या इमेज (छवि) की खातिर उन्हें छिपाये रखना है। https://twitter.com/Mayawati/status/1108941902466838530

क्या देश को ऐसा ही चौकीदार चाहिए?” बसपा सुप्रीमो ने कहा कि भाजपा के मंत्री और नेतागण पीएम मोदी की देखादेखी ‘चौकीदार’ बन गये हैं, लेकिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री (योगी आदित्यनाथ) जैसे लोग बड़ी दुविधा में हैं कि क्या करें? जनसेवक/योगी रहें या अपने को चौकीदार घोषित करें। उन्होंने कहा, “बीजेपी वाले चाहे जो फैशन करें, बस संविधान-कानून के रखवाले बनकर काम करें, जनता बस यही चाहती है।”

Quote

लोकसभा चुनाव लड़ने से मायावती ने किया इनकार

लखनऊ : बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो ने बुधवार को बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि मैं आगामी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ूंगी। उन्होंने कहा कि मेरे लिये सपा-बसपा-रालोद गठबंधन का एक एक सीट जीतना महत्वपूर्ण है। हालांकि, इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि यदि चुनाव के बाद ऐसी जरूरत पड़ी तो वो किसी सीट को खाली कराकर लोकसभा का चुनाव लड़ेंगी।

बुधवार को मायावती ने यह भी कहा कि उनका महागठबंधन सही तरीके से काम कर रहा है। यहां चर्चा कर दें कि मायावती की पार्टी बसपा लोकसभा चुनाव में चिर प्रतिद्वंदी समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ गठबंधन करके चुनावी मैदान में है। इस गंठबंधन में राष्ट्रीय लोकदल भी सपा-बसपा के साथ है।

यदि आपको याद हो तो 2014 के लोकसभा चुनाव में बसपा को 20 फीसदी वोट मिले थे. पिछले लोकसभा चुनाव में पार्टी प्रदेश में अपना खाता खोल पाने में नाकाम रही थी। सपा की बात करें तो 2014 के लोकसभा चुनाव में उसे 22.2 फीसदी वोट मिले थे जबकि भाजपा को अकेले दम पर 42.3 फीसदी वोट मिले थे।

यहां चर्चा कर दें कि पिछले रविवार एक निजी चैनल के कार्यक्रम में सपा नेता और यूपी के पूर्व मुख्‍यमंत्री ने मायावती के चुनाव लड़ने पर कहा था कि वह मुझसे सीनियर नेता हैं, मैं उनकी पार्टी के फैसले नहीं करता। उन्हें जहां से लड़ना होगा वो खुद फैसला करेंगी।

Quote

काशी के अस्सी घाट में बोली प्रियंका, आपको नयी सरकार चाहिए

वाराणसी : प्रियंका गांधी चुनावी यात्रा पर हैं। आज वह वाराणसी पहुंची। प्रियंका गांधी काशी के अस्सी घाट पहुंची। यहां उनका जोरदार स्वागत किया गया। प्रियंका गांधी ने यहां एक जन सभा को संबोधित किया उन्होंने कहा, आपको यहां के अहंकारी भाजपा नेताओं को यह दिखाना होगा कि आपको नयी सरकार चाहिए। मैं जगह- जगह घूम रही हूं देख रही हूं कि कितने लोगों को रोजगार नहीं मिला। नांव से यात्रा के दौरान मैं कई लोगों से मिली हूं जिन्हें समस्या है। राहुल गांधी ने घोषणा की है कि अगर हमारी सरकार आयी, तो मछुआओं की समस्या से निपटने के लिए एक नया मंत्रालय बनाया जायेगा।

प्रियंका ने इस सभा में किसानों की समस्या पर भी जोर दिया। प्रियंका ने कहा, किसानों को खाद और बीज नहीं मिलता। युवाओं को रोजगार का वादा था भाजपा सरकार ने कहा था कि हम रोजगार देंगे लेकिन आपको रोजगार नहीं मिली। आपकी कई समस्याएं हैं उसका हल नहीं मिल रहा है। आसपास के मल्लाहों की स्थिति खराब है। वोट आप उसे दीजिए तो आपकी समस्याओं को सुलझाए। गौरतलब है कि प्रियंका प्रयागराज से नाव पर सवार होकर चुनावी यात्रा में निकली हैं। आज वह वाराणसी पहुंची।

Quote

विंध्यवासिनी मंदिर पहुंची प्रियंका

मिर्जापुर : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी अपनी गंगा यात्रा के दूसरे दिन आज मिर्जापुर में विंध्यवासिनी मंदिर दर्शन के लिए पहुंचीं। उन्होंने वहां पूजा-अर्चना की। जब प्रियंका वहां पहुंची, तो भीड़ ने मोदी-मोदी के नारे लगाये।

प्रियंका ने यहां ख्वाजा जनाब इस्माइल चिश्ती के दरगाह पर भी चादर चढ़ाया और दुआ मांगी। इससे पहले प्रियंका ने भदोही के सीतामढ़ी मंदिर में भी पूजा की थी और भाजपा पर जमकर निशाना साधा था।

Quote

मायावती ने कहा है कि पहले चायवाला और अब चौकीदार, देश वाकई बदल रहा है

लखनऊ : हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए ‘मैं भी चौकीदार” अभियान पर बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने मंगलवार को तंज करते हुये कहा कि पिछले चुनाव में चायवाला और अब चौकीदार…, देश वाकई बदल रहा है। बाद में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी चौकीदार मुद्दे पर सरकार की खिंचाई की।

मायावती ने आज ट्वीट किया ”सादा जीवन उच्च विचार के विपरीत शाही अन्दाज में जीने वाले जिस व्यक्ति ने पिछले लोकसभा चुनाव के समय वोट की खातिर अपने आपको चायवाला प्रचारित किया था, वह अब इस चुनाव में वोट के लिये ही बड़े तामझाम और शान के साथ अपने आपको चौकीदार घोषित कर रहे हैं। देश वाकई बदल रहा है।”

उधर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा ‘‘विकास पूछ रहा है कि खाद की बोरी से चोरी रोकने के लिये भी कोई चौकीदार है क्या ?” दूसरे ट्वीट में अखिलेश ने कहा ‘‘विकास पूछ रहा है कि जनता के बैंक खाते से चोरी छिपे जो पैसे काटे जा रहे हैं, उससे बचाने के लिये कोई चौकीदार है क्या ?” तीसरे ट्वीट में उन्होंने कहा ”विकास पूछ रहा है कि मंत्रालय से जहाज की फाइल चोरी होने के लिये जिम्मेदार लापरवाह चौकीदार को सजा मिली क्या ?

गौरतलब है कि गंगा यात्रा पर निकलीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी सोमवार को चौकीदार मुद्दे पर मोदी को निशाने पर लिया था। नाम के आगे चौकीदार लगाने पर प्रियंका गांधी ने कहा था ‘‘ उनकी (प्रधानमंत्री मोदी की) मर्जी है कि वह अपने नाम के आगे क्या लगाएं। मुझे एक भाई ने कहा कि देखिए, चौकीदार तो अमीरों के होते हैं। हम किसान तो अपने चौकीदार खुद ही होते हैं।

Quote

यूपी में कोई दंगा नहीं जब से भाजपा सत्ता में आई है: सीएम आदित्यनाथ

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि भाजपा के सत्ता में आने के बाद राज्य ने एक भी दंगा नहीं देखा था और उनकी दो साल की सरकार ने अपराध और अपराधियों के प्रति शून्य सहिष्णुता दिखाई थी।

अपनी सरकार के एक रिपोर्ट कार्ड को पेश करते हुए, जो कार्यालय में दो साल पूरे करता है, उन्होंने कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली राज्य सरकार राज्य के बारे में धारणा बदलने में सक्षम थी।

मुख्यमंत्री के अनुसार, देश में सुरक्षित माहौल देश के बाकी हिस्सों के लिए एक उदाहरण बन गया था।यू.पी. उन्होंने कहा कि 2018 में 68 साल बाद पहली बार चरणपना दिवस (स्थापना दिवस) मनाया गया।

Quote

प्रियंका गांधी ने कहा है कि 70 साल की रट छोड़िए, बतायें पांच साल में आपने क्या किया?

भदोही : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने आज अपनी वोट यात्रा के दूसरे दिन मिर्जापुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला बोला। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमेशा पिछले 70 सालों की रट लगाये रहते हैं, लेकिन उसकी भी एक एक्सपायरी होती है। मोदी जी पिछले पांच सालों से सत्ता में हैं, उन्हें इन पांच सालों का हिसाब देना होगा।

वे कहते हैं मैं गरीबों के लिए काम करता हूं लेकिन उनके राज में किसान, जवान, महिलाएं सब प्रताड़ित हैं। वे प्रचार करते हैं, लेकिन जमीनी हकीकत से वाकिफ नहीं है। उन्हें इसपर जवाब देना होगा। आज प्रियंका गांधी ने सीतामढ़ी मंदिर जाकर पूजा अर्चना की। खबर है कि वे एक दरगाह भी जायेंगी।

प्रियंका गांधी की गंगा यात्रा कल प्रयागराज से शुरू हुई है। यात्रा से पहले प्रियंका ने प्रयागराज के बड़े हनुमान मंदिर में पूजा की थी। पूरे रास्ते उन्होंने आम लोगों से संपर्क किया। इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं से बातचीत की।

Quote

एक ऐसी दरगाह जहां हिन्दू-मुस्लिम मिलकर खेलते हैं होली

बाराबंकी : उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले के देवा स्थित सूफी संत हाजी वारिस अली शाह की मजार हिंदू-मुस्लिम के बीच भाईचारे का अनोखा संगम हैै। ‘जो रब है, वही राम’ का संदेश देने वाले सूफी संत की दरगाह परिसर में हर साल दोनों मजहबों के लोग एक-दूसरे को गुलाल लगाकर होली खेलते हैं जो उनके पैगाम की सच्चाई बयां करती है।

ऐसी पहली दरगाह है जहां होती है होली
भाईचारे की अटूट परंपरा को पिछले करीब 4 दशक से संभाल रहे शहजादे आलम वारसी ने बताया कि हाजी बाबा का यह आस्ताना देश की शायद ऐसी पहली दरगाह है जहां होली के दिन हिंदू और मुसलमान एक साथ गुलाल उड़ाकर होली का जश्न मनाते हैं। इस दौरान हिंदुस्तान की गंगा जमुनी तहजीब की शानदार झलक नजर आती है। वारसी ने बताया कि दरगाह के बाहर बने कौमी एकता गेट पर होली के दिन चाचर का जुलूस निकाला जाता है जिसमें दोनों समुदायों के लोग हिस्सा ले लेते हैं। इस तरह वे हाजी बाबा के ‘जो रब है वही राम’ के संदेश को उसके मूल रूप में परिभाषित करते हैं।

परंपराओं को हमेशा बनाए रखना होगा
स्थानीय निवासी राम अवतार ने बताया कि हाजी बाबा की दरगाह पर होली खेलने का रिवाज वह बचपन से देख रहे हैं। यहां आकर इसे देखकर यह महसूस होता है कि हमारी गंगा जमुनी तहजीब कितनी मजबूत है और मुल्क तथा कौम की तरक्की के लिए ऐसी परंपराओं को हमेशा बनाए रखना होगा।

भाईचारे और सद्भाव का प्रतीक
उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले के देवा कस्बे में स्थित हाजी वारिस अली शाह की दरगाह पर रोजाना हजारों की तादाद में जायरीन आकर दुआ मांगते हैं। इनमें बड़ी संख्या में गैर मुस्लिम श्रद्धालु भी शामिल होते हैं। यह दरगाह पूरे देश में सांप्रदायिक भाईचारे और सद्भाव के प्रतीक के तौर पर जानी जाती है।

सभी धर्मों का बराबर सम्मान
हालांकि यह परंपरा कब से शुरू हुई इस बारे में कोई पुख्ता जानकारी उपलब्ध नहीं है। मगर चूंकि हाजी बाबा के मानने वालों में बहुत बड़ी संख्या गैर मुस्लिमों की है और खुद हाजी बाबा सभी धर्मों का बराबर सम्मान करते थे, लिहाजा यह माना जाता है कि उनके मुरीदों ने उनकी इस सोच को और आगे बढ़ाते हुए दरगाह के गेट के पास हर साल गुलाल से होली खेलने की परंपरा डाली। गौरतलब है कि हाजी बाबा कहे जाने वाले सूफी वारिस अली शाह की दरगाह के गेट के पास हर साल हिंदू और मुसलमान मिलकर होली के उल्लास में डूब जाते हैं और यह परंपरा देवा की होली को बाकी स्थानों से अलग करती है।

Quote

आज से प्रियंका गांधी की तीन दिवसीय ‘गंगा यात्रा’की शुरुआत की

इलाहाबाद : कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी आज से तीन दिवसीय ‘गंगा यात्रा’ की शुरुआत कर रही हैं। इसके लिए प्रियंका गांधी ने आज प्रयागराज के छतनाग में गंगा तट पर पूजा की, वे मनैया घाट से बोट यात्रा की शुरुआत करेंगी। छतनाग प्रयागराज के फूलपुर लोकसभा क्षेत्र में आता है, जहां से पंडित नेहरू चुनाव लड़ा करते थे।

यात्रा शुरू करने से पहले प्रियंका गांधी ने यहां गंगा तट पर पूजा-अर्चना की। प्रियंका गांधी ने आज सुबह गंगा तट पर स्थित बड़े हनुमान मंदिर में भी पूजा अर्चना की। पूजा के बाद उन्होंने कहा कि मैंने अपने लिए कुछ नहीं मांगा बस देश की तरक्की की कामना की। बताया जा रहा है कि प्रियंका गांधी बोट पर चर्चा भी करेंगी। यह बोट यात्रा वाराणसी के अस्सी घाट पर खत्म होगी। बीच-बीच में वे गंगा तट पर कार्यकर्ताओं से बातचीत करेंगी।

Quote

मायावती ने कांग्रेस पर बोला हमला

लखनऊ : बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने आज कांग्रेस पर तीखा हमला बोला और कहा कि वे चाहें तो उत्तर प्रदेश के 80 में से 80 सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए स्वतंत्र हैं, वे यह कहकर भ्रम ना फैलाएं कि सात सीटों पर वे बसपा-सपा गठबंधन के लिए चुनाव नहीं लड़ेंगे।

मायावती ने कहा कि हमें और हमारे गठबंधन को जबरदस्ती की मेहरबानी नहीं चाहिए मायावती ने कहा कि बसपा-सपा का गठबंधन भाजपा को हराने के लिए सक्षम है, इसलिए वे भ्रम फैलाने वाली बयानबाजी ना करें। गौरतलब है कि हाल में कांग्रेस की ओर से यह कहा है कि वे अखिलेश, डिंपल और मुलायम सिंह जैसे दिग्गजों के सीट पर अपने उम्मीदवार खड़े नहीं करेगी। लेकिन पिछले दिनों जिस तरह प्रियंका गांधी भीम आर्मी के चंद्रशेखर से मिलीं, उससे मायावती नाराज हैं और कांग्रेस से कहा है कि आज 80 के 80 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े करें, हमारा गठबंधन भाजपा को हराने में सक्षम है।

Quote

UP में कांग्रेस ने सपा-बसपा और रालोद के लिए 7 सीटें छोड़ी

लखनऊ : उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने बड़ा फैसला करते हुए सपा-बसपा और रालोद के लिए 7 सीटें छोड़ने का ऐलान किया है। इससे पहले गठबंधन ने कांग्रेस के लिए दो सीटों पर अपने प्रत्याशी नहीं उतारने का फैसला किया था। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर ने मीडिया को बताया कि कांग्रेस ने राज्य की सात सीटें बसपा-सपा-आरएलडी गठबंधन के लिए छोड़ने का फैसला किया है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि उनकी पार्टी इन सात सीटों पर अपने उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया है। कांग्रेस ने बसपा-सपा के लिए जिन सात सीटों को छोड़ने का ऐलान किया है उनमें सपा का गढ़ कही जाने वाली सीटें मैनपुरी, कन्नौज और फिरोजाबाद शामिल हैं। कांग्रेस ने कहा बाकी उन सीटों को भी खाली छोड़ देगी जहां से मायावती, अजीत सिंह और जयंत चौधरी लड़ेंगे।

अपना दल के लिए छोड़ी 2 सीटें- प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर ने बताया कि उन्होंने अपना दल के लिए भी दो सीटें छोड़ने का ऐलान किया है। अपना दल के लिए गोंडा और पीलीभीत की सीटें खाली रखी गईं हैं।

जन अधिकार पार्टी से समझौता-
राजबब्बर ने बताया कि उन्होंने जन अधिकार पार्टी(JAP) के साथ उनका सात सीटों पर समझौता हुआ है। इस सात सीटों में पांच पर JAP चुनाव लड़ेगी जबिक दो पर कांग्रेस लड़ेगी।

उन्होंने बताया कि इससे पहले महान दल से भी बातचीत हुई है। महान दल ने कहा कि वे जो भी सीटें देंगे उनपर वे चुनाव लड़ने को तैयार हैं। इसके साथ ही विधानसभा चुनाव में भी साथ मिलकर लड़ेंगे। राजबब्बर ने बताया कि महान दल लोकसभा चुनाव कांग्रेस के चुनाव चिन्ह पर लड़ेगी।

Quote

चेन्नई एक्सप्रेस में लूटपाट, मां का अस्थि कलश भी ले गये बदमाश

सहारनपुर : उतर प्रदेश के सहारनपुर जिले मे शुक्रवार रात चेन्नई एक्सप्रेस में लूटपाट करने वाले बदमाश यात्रियों के सोने-चांदी और नकदी के साथ ही एक यात्री की मां का अस्थि कलश भी लूटकर अपने साथ ले गये। पुलिस ने यह जानकारी दी।

जीआरपी के मुताबिक चेन्नई निवासी यात्री बदमाशों से कलश में अपनी मां की अस्थियां होने की बात कहता रहा लेकिन बदमाशों को उसकी भाषा समझ में नहीं आयी और वे अन्य यात्रियों के सामान के साथ उसकी मां का अस्थि कलश भी ले गये।

जीआरपी ने बताया कि चेन्नई निवासी पीड़ित यात्री अपनी मां के अस्थि क्लश को गंगा में प्रवाहित करने के लिए हरिद्वार जा रहा था लेकिन बदमाशों ने कीमती सामान के शक में इस कलश को भी लूट लिया। रेल में सवार आईआईटी रुड़की के प्रोफेसर कुमार पी के परिवार की महिलाओं से बदमाशों ने सोने की चेन कुंडल और मंगलसूत्र लूट लिये थे।

इस प्रकरण की रिपोर्ट भी प्रोफेसर कुमार पी ने जी आर पी थाने मे दर्ज करायी थी। गौरतलब है कि शुक्रवार शनिवार की दरमियानी रात सशस्त्र बदमाशों ने सहारनपुर से होकर गुजरने के बाद चेन्नई एक्सप्रेस के तीन डिब्बों में लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया था।

Quote

योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि इस चुनाव में एसपी-बीएसपी-कांग्रेस को निपटा दिया जाएगा

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को एक निजी चैनल के कार्यक्रम में कई मुद्दों पर बात की। उन्होंने कार्यक्रम के दौरान कहा कि 2014 में नये भारत के लिए एक छटपटाहट थी। आज मोदी जी का नाम ही नहीं उनका काम भी हमारे साथ में हैं, पांच साल में जो भी काम हुआ उसकी उपलब्धि हमारे साथ हैं। समाज के हर तबके को ध्यान में रखकर योजनाएं बनाईं गईं।

सीएम यागी ने कहा कि हमारे लिए इस बार चुनाव आसान है, इस बार इन दोनों-तीनों (एसपी-बीएसपी-कांग्रेस) को निपटा दिया जाएगा। एसपी-बीएसपी के कारनामों को सभी जानते हैं। जिसे आप कठिन कहते हैं उसे हम आसान कहते हैं। इस बार इन तीनों को निपटा दिया जाएगा। 2014 में बीएसपी की जीरो सीटें आई थीं, अगर जीरो से किसी को गुणा करेंगे तो जीरो ही आएगा। अमेठी भी भाजपा जीतेगी और आजमगढ़ भी भाजपा जीतेगी।

उन्होंने कहा कि यूपी की पिछली सरकारों में प्रदेश के अंदर भ्रष्टाचार, गुंडाराज व्याप्त था। अब प्रदेश में विकास कार्य तेजी से हो रही है, एसपी-बीएसपी के कारनामों को पूरा देश जानता है। पहले प्रदेश में जाति और पैसे लेकर नियुक्तियां होती थी। सपा को बसपा को यूपी में तीन-तीन बार मौक़ा मिला लेकिन इन लोगों ने भ्रष्टाचार के नए-नए कीर्तिमान स्थापित किये।

सीएम योगी ने कहा कि पहले दुनिया में लोग हमें अच्छी नजर से नहीं देखते थे, आज लोग पूछते हैं कि अच्छा उस भारत से हो जहां मोदी प्रधानमंत्री हैं। आज मोदी एक ब्रांड बन चुका है। मोदी जी भारत को चिड़िया नहीं शेर बनाया है, 2014 में भारत दुनिया की 11वीं अर्थव्यवस्था थी आज 6वीं अर्थव्यवस्था है। भारत अगले पांच साल में टॉप थ्री में शामिल होगा।

उन्होंने कहा कि पहले आतंकी हमलों पर हम सिर्फ धमकी देने तक सीमित रह जाते थे। मोदी जी नेतृत्व में भारत ने अपनी सामरिक शक्ति भी दिखायी है। जो लोग आतंकियों के नाम आगे जी लगाते हैं उन्हें शर्म नहीं आती। 2014 के बाद भारत में दुश्मन की आंख में आंख मिलाकर क्षमता आई है। ये मोदी के नए भारत में संभव हुआ है।मोदी सरकार ने देश को ये सिखाया है कि दुश्मन कितना भी बड़ा हो मुंहतोड़ जवाब देंगे। नये भारत में हर चुनौतियों से निपटने की क्षमता है। 48 घंटे के अंदर पुलवामा हमले के आतंकियों को मार गिराया गया। सीएम योगी ने कहा कि सरकार की सख्त कार्रवाई से आतंकियों में बौखलाहट है, इसी वजह से पुलवामा जैसा हमला हुआ लेकिन हमारे वायुसेना के जवानों ने अपना पराक्रम दिखाया।

प्रियंका गांधी को लेकर सीएम योगी ने कहा कि वह पहली बार चुनावी समर में नहीं उतरी हैं। 2017 में तो उन्होंने दोनों लड़कों मिलाने का काम किया था लेकिन यूपी ने दोनों को खारिज कर दिया। कांग्रेस आज प्रदेश के अंदर कहीं है ही नहीं फिर इतनी छटपटाहट क्यों है? प्रियंका के राजनीति आने से भाजपा का कोई नुकसान नहीं होगा। कांग्रेस की एक सम्मानित नेता होने के कारण उनको अपनी बात कहने का पूरा हक है।

प्रियंका गांधी की गंगा में नाव यात्रा पर योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अच्छी बात ये सबको जाना चाहिए, उन्हें पीएम मोदी का शुक्रिया करना चाहिए जिनकी वजह से वाटर वे शुरू हुआ। मुझे खुशी होगी अगर राहुल जी, अखिलेश जी और मायावती भी जाएं।

कुंभ की सफलता का श्रेय सीएम योगी ने पीएम मोदी को दी और कहा कि हमने कुंभ के जरिए स्वच्छता का संदेश दिया। 2013 में 12 करोड़ श्रद्धालु आये और 2019 में 24 करोड़ श्रद्धालु आये। सुरक्षा और स्वच्छता का जो संदेश दिया वो मोदी जी के नेतृत्व से संभव हुआ।

उन्होंने कहा कि यूपी में हम 74 प्लस के लक्ष्य को लेकर चल रहे हैं। इस बार हम गोरखपुर, कैराना, अमेठी और आजमगढ़ भी जीतेंगे। राम मंदिर मामले पर उन्होंने कहा कि यह मुद्दा हमारे लिए चुनावी मुद्दा कभी नहीं रहा, अयोध्या में जनभावना का सम्मान होना चाहिए। हमने पहले भी बातचीत की पेशकश की लेकिन सबूत मांगने पर हमेशा मुस्लिम पक्ष भागता था।

उन्होंने कहा कि जहां रामलला विराजमान वही जन्मभूमि है। अयोध्या में रामजन्मभूमि का दावा हिंदू कभी नहीं छोड़ेंगे। मुसलमान बाबरी मस्जिद की बात छोड़ें, एएसआइ के सर्वे में भी जन्मभूमि की जगह मंदिर की बात कही गयी है। सीएम ने कहा कि प्रदेश का पहला मुख्‍यमंत्री हूं जिसने दो साल में करीब 10 बार अयोध्या का दौरा किया। अयोध्या के विकास के लिए हमारी सरकार एक रोडमैप तैयार करके कार्य कर रही है। सबूत मौजूद है कि अयोध्या में पहले मंदिर मौजूद था। मुस्लिम पक्ष बाबरी मस्जिद की जिद छोड़े।

Quote

योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि प्रियंका गांधी के राजनीति में प्रवेश से भाजपा पर नहीं पड़ेगा असर

लखनऊ : प्रियंका गांधी वाड्रा के राजनीति में आने से भाजपा की संभावनाओं पर असर कोई असर नहीं पडे़गा। यह कहना उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का है। उन्होंने शनिवार को कहा कि प्रियंका के राजनीति में प्रवेश से लोकसभा चुनावों में भाजपा की संभावनाओं पर उत्तर प्रदेश में कोई असर नजर नहीं आएगा।

योगी ने कहा कि कांग्रेस ने उन्हें (प्रियंका) इस बार पार्टी महासचिव (पूर्वी उत्तर प्रदेश का प्रभारी) बनाया है। यह उस पार्टी (कांग्रेस) का अंदरूनी मामला है। पूर्व में भी वह कांग्रेस के लिए प्रचार कर चुकी हैं और इस बार भी इससे (भाजपा को) कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है।

उन्होंने सपा-बसपा गठबंधन पर कहा कि यह गठबंधन पहले ही विवादों में उलझ चुका है। रविवार को चुनाव कार्यक्रम घोषित होने के बाद अपने पहले साक्षात्कार में योगी ने कहा कि नया नया बना (सपा—बसपा) गठबंधन पहले ही विवादों में उलझ गया है। यह (गठबंधन) और कुछ नहीं बल्कि ‘हौवा’ है।

शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एयर स्ट्राइक, राम मंदिर और गो हत्या जैसे मुद्दों पर किये गये तमाम सवालों का जवाब दिये।

Quote

लोकसभा चुनाव 2019 : भाजपा सांसद श्यामा चरण गुप्ता सपा के टिकट पर बांदा से चुनावी मैदान में

लखनऊ : प्रयागराज से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद और बीड़ी व्यवसायी श्यामा चरण गुप्ता को समाजवादी पार्टी (सपा) ने अपना उम्मीदवार बनाया है। गुप्ता को सपा ने बांदा से चुनावी मैदान में उतारा है। यहां चर्चा कर दें कि वे पहले भी बांदा से सपा सांसद रह चुके हैं।

श्यामा चरण गुप्ता ने अभी भाजपा ने इस्तीफा भी नहीं दिया है।

गौर हो कि सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी व राष्ट्रीय लोकदल के साथ सपा ने गठबंधन किया है। सपा किश्तों में अपने प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर रही है।

सपा ने शुक्रवार को पहले चार और इसके बाद एक प्रत्याशी के नाम की घोषण की है।सपा की ओर से जारी विज्ञप्ति में बताया गया कि बांदा लोकसभा सीट से श्यामा चरण गुप्ता सपा प्रत्याशी होंगे।

पार्टी ने कल यानी शुक्रवार को ही पांच प्रत्याशी के नाम घोषित किये थे। इनमें कैराना से वर्तमान सांसद तबस्सुम हसन और गाजियाबाद से सुरेन्द्र कुमार शामिल हैं। सपा अब तक 17 प्रत्याशियों के नाम तय कर चुकी है। बसपा के साथ उसके समझौते के तहत सपा को 37 सीटें मिली हैं जबकि बसपा 38 सीटों पर चुनाव लडे़गी। तीन सीटें रालोद को दी गयी हैं जबकि गठबंधन ने सोनिया गांधी के निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली और राहुल गांधी के क्षेत्र अमेठी से उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया है।

Quote

फिर टिकट को लेकर यादव परिवार में दरार

लखनऊ : लोकसभा चुनावों की तैयारियों के बीच समाजवादी पार्टी ने अपने प्रत्याशियों की चौथी सूची जारी कर दी है। इस सूची में समाजवादी पार्टी की हाई प्रोफाइल सीट कैराना और संभल लोकसभा सीट के उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी गई है। इस सूची के जारी होने के बाद इस बात की सुगबुगाहट तेज हो गई है कि अखिलेश यादव, सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की कोई भी बात नहीं मान रहे हैं। ऐसा इसलिए कहा जा क्योंकि मुलायम सिंह यादव ने संभल लोकसभा सीट से अपनी बहू अपर्णा यादव के लिए टिकट मांगा था।

अपर्णा यादव के लिए सिफारिश की थी
यह भी कहा जा रहा था कि इस बार इस सीट से यादव परिवार का सदस्य मैदान होगा। सूत्रों के मुताबिक, कुछ वक्त पहले मुलायम सिंह यादव ने अखिलेश यादव से अपर्णा यादव के लिए सिफारिश की थी। सभी सिफारिशों को खारिज करते हुए अखिलेश यादव ने संभल लोकसभा सीट से पार्टी के पूर्व सांसद शफिकुर्रहमान बर्क को प्रत्याशी घोषित किया है।

अब तक 15 नामों की हुई घोषणा
नई सूची आने के बाद समाजवादी पार्टी के प्रत्याशियों की संख्या 15 हो गई है। पार्टी की ओर से जारी की गई सूची के मुताबिक, मैनपुरी से मुलायम सिंह यादव, फिरोजाबाद से अक्षय यादव, बदायूं से धर्मेंद्र यादव, इटावा से कमलेश कठेरिया, रोबर्टसगंज से भिलाल कोल, बहराइच से शब्बीर बाल्मीकि, कन्नौज से डिंपल यादव, लखीमपुर खीरी से पूर्वी वर्मा, हरदोई से उषा वर्मा, हाथरस से रामजी लाल सुमन और मिर्जापुर से राजेंद्र एस विंद चुनावी मैदान में होंगे।

Quote

उत्तर प्रदेश में भाजपा-अपना दल के बीच समझौता

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में भाजपा और अपना दल के बीच कुछ समय से चल रही राजनीतिक खींचतान के बाद शुक्रवार को दोनों दलों ने फिर मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया. इसके तहत अपना दल दो सीटों पर चुनाव लड़ेगा।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ यहां अपना दल (एस) की नेता अनुप्रिया पटेल एवं अन्य नेताओं की बैठक में लोकसभा चुनाव मिलकर लड़ने का निर्णय किया गया। अमित शाह ने अपने ट्वीट में कहा, फिर एक बार-मोदी सरकार के संकल्प के साथ ‘भाजपा-अपना दल’ गठबंधन उत्तरप्रदेश में लोकसभा चुनाव साथ-साथ लड़ेगा। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि अपना दल प्रदेश की दो सीटों पर चुनाव लड़ेगा, जिसमें अनुप्रिया पटेल मिर्जापुर से चुनाव लड़ेंगी और दूसरी सीट पर दोनों दलों के नेता बैठकर चर्चा करेंगे।

गौरतलब है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में भी अपना दल और भाजपा के बीच उत्तर प्रदेश में समझौता हुआ था। अनुप्रिया पटेल की पार्टी को 2014 के आम चुनाव में लोकसभा की दो सीटों पर जीत मिली थी। इनमें मीर्जापुर की सीट से अनुप्रिया पटेल और प्रतापगढ़ लोकसभा सीट से पार्टी नेता कुंवर हरिवंश सिंह चुनाव जीते थे। चुनाव जीतने के बाद अनुप्रिया पटेल को केंद्र में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग का राज्यमंत्री भी बनाया गया। हालांकि, पिछले कुछ महीनों से दोनों दलों के बीच रिश्ते तल्ख होने की खबरें आ रही थी।

Quote

अब मायावती मांगेंगी मुलायम के लिए वोट

लखनऊः बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती, समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव का प्रचार करने के लिए मैनपुरी में रैली करेंगी। लोकसभा चुनाव में गठबंधन के तहत चुनाव लड़ रही समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी होली के बाद से संयुक्त रैली शुरू करेंगी। उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा-रालोद गठबंधन की पहली संयुक्त रैली 7 अप्रैल को सहारनपुर के देवबंद में हो सकती हैं। 7 अप्रैल को देवबंद में होने वाली इस संयुक्त रैली में अखिलेश और मायावती के साथ साथ राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह भी मौजूद रहेंगे।

अखिलेश-मायावती संयुक्त प्रचार करेंगे
वहीं, 8 अप्रैल को मेरठ लोकसभा सीट के लिए अखिलेश-मायावती संयुक्त प्रचार करेंगे। दरअसल अखिलेश और मायावती ने चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत सहारनपुर से करने की प्लानिंग इसलिए की है, ताकि मुस्लिम और दलित वोट बैंक को संदेश दिया जा सके। इससे पहले अखिलेश यादव ने कहा कि संयुक्त रैलियों का दौर जल्द शुरू होगा। उन्होंने कहा सपा-बसपा की संयुक्त रैलियां होली के बाद शुरू होंगी। इसकी शुरुआत पश्चिमी उत्तर प्रदेश से होगी। चरणबद्ध तरीके से पूरे सूबे में संयुक्त रैलियां होंगी।

2 साझा जनसभाएं आयोजित होंगी
अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती एक साथ रैलियों को संबोधित करेंगी। उत्तर प्रदेश के पहले चरण में 2 साझा जनसभाएं आयोजित होंगी। 9 अप्रैल को नगीना लोकसभा सीट में संयुक्त रैली होगी। सपा- बसपा व राष्ट्रीय लोक दल के पार्टी प्रमुख विशाल जनसभा को संबोधित करेंगे। मायावती और अखिलेश यादव एक दर्जन संयुक्त रैलियां करेंगे, जिसमें चौधरी अजीत सिंह भी शामिल होंगे। सपा-बसपा हिंदुओं को यह मैसेज देना चाहते हैं कि हम पवित्र त्योहार में चुनाव प्रचार की शुरुआत कर रहे हैं। इसका एक कारण जाट वोट बैंक भी है। सपा-बसपा और रालौद यह चाहते हैं कि इस बार जाट-मुस्लिम साथ-साथ आएं।

11 अप्रैल से चुनाव
गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव की शुरुआत 11 अप्रैल से हो रही है। पहले चरण में पश्चिम यूपी की आठ लोकसभा सीटों पर चुनाव होना है। पहले चरण में सहारनपुर, कैराना, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद और गौतमबुद्धनगर लोकसभा सीटों पर चुनाव होने हैं ।

Quote

फैजाबाद में अयोध्या मध्यस्थता प्रक्रिया शुरू

अयोध्या : अधिकारियों ने कहा कि राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद शीर्षक विवाद मामले में फैजाबाद में सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त मध्यस्थता पैनल के समक्ष बुधवार को पेश हुए।फैजाबाद प्रशासन ने पैनल की ओर से 25 याचियों को नोटिस जारी किया था।

उन्होंने कहा कि मध्यस्थता प्रक्रिया फैजाबाद अवध विश्वविद्यालय के एक हॉल में होगी, उन्होंने कहा कि किसी को भी उस क्षेत्र में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी गई है जहां मध्यस्थता हो रही है।फैजाबाद के जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने कहा कि विश्वविद्यालय परिसर में भारी सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

उन्होंने कहा कि तीन सदस्यीय पैनल में सेवानिवृत्त जस्टिस कलीफुल्लाह, वरिष्ठ वकील श्रीराम पंचू और आध्यात्मिक नेता श्री श्री रविशंकर मंगलवार को फैजाबाद पहुंचे।अधिकारियों ने कहा कि सदस्य पैनल द्वारा दिए गए कार्यक्रम के अनुसार तीन दिनों तक फैजाबाद में रहेंगे।

एक पत्र में पैनल ने फैजाबाद प्रशासन को निर्देश दिया है कि वह कार्यक्रम स्थल और उसके आसपास और साथ ही वादकारियों और वकीलों के लिए आवश्यक निजी सुरक्षा सुनिश्चित करे।