UPSSSC PET Admit Card : यूपीएसएसएससी पीईटी के एडमिट कार्ड जारी, 20 लाख अभ्यर्थी देंगे परीक्षा

नई दिल्ली – UPSSSC PET Admit Card 2021: यूपीएसएसएससी पीईटी परीक्षा के लिए उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) ने एडमिट कार्ड जारी कर दिया है. अभ्यर्थी यूपीएसएसएससी की आधिकारिक वेबसाइट upsssc.gov.in पर विजिट करके प्रवेश पत्र डाउनलोड कर सकते हैं. बता दें कि 24 अगस्त को होने वाली यह परीक्षा दो शिफ्टों में होगी. पहली शिफ्ट सुबह 10 बजे से 12 बजे तक और दूसरी शिफ्ट दोपहर 3 बजे से शाम 5 बजे तक होगी. इस बार यूपीएसएसएससी पीईटी परीक्षा के लिए 20,73,540 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था.

गौरतलब है कि इस भर्ती परीक्षा के जरिए यूपी सरकार के विभिन्न विभागों में खाली पड़े ग्रुप सी स्तर के करीब 35 हजार पदों पर नियुक्तियां की जाएंगी. यूपीएसएसएससी ने पीईटी परीक्षा के लिए प्रदेश भर में 2254 परीक्षा सेंटर बनाए हैं. अभ्यर्थी इस डायरेक्टर लिंक से एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं. खास बात यह है कि अभ्यर्थियों को प्रवेश पत्र लोड करने में किसी तरह की कोई परेशानी न हो इसके लिए 10 सर्वर से आयोग की साइट को जोड़ा गया है. इसके साथ ही विशेषज्ञों की एक टीम लगाई गई है, जिससे अभ्यर्थियों को किसी तरह की कोई परेशानी न हो

इस परीक्षा के द्वारा इन खाली पदों को भरा जाएगा

यूपीएसएसएससी ने पीईटी परीक्षा के द्वारा चयनित होने वाले अभ्यर्थियों की नियुक्ति लेखपाल के 7882, बेसिक शिक्षा के 1055, माध्यमिक शिक्षा के 500, विभिन्न विभागों में लिपिक के 7000, लेखा परीक्षक के 1303, ग्राम्य विकास के 1658, परिवार कल्याण के 9222, बाल विकास पुष्टाहार के 3448 और नगर निकाय के 383 पदों पर होगी.

चयन प्रक्रिया

सबसे पहले पीईटी परीक्षा होगी और इसके बाद खाली पदों के लिए आयोग आवेदन पत्र आमंत्रित करेगा. पीईटी स्कोर के आधार पर अलग-अलग भर्तियों में अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा/स्किल टेस्ट/शारीरिक दक्षता परीक्षा के लिए बुलाया जाएगा. इस परीक्षा में सफल होने वालों का चयन किया जाएगा. खास बात यह है कि अगर कोई अभ्यर्थी पीईटी में नहीं बैठता है तो वह आयोग की भविष्य में निकलने वाली भर्तियों की परीक्षाओं की मुख्य परीक्षा में नहीं बैठ सकता है.

परीक्षा देते समय बरतें ये सावधानियां

एग्जाम डेट की लिस्ट आते ही प्रेशर दिखने लगता है। स्टूडेंट्स बोर्ड एग्जाम्स में बेटर परफॉर्म करने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा देते हैं। लेकिन कई बार ऐसा होता है, जब लास्ट आवर्स में गलती उन्हें परेशानी में डाल देती है।

हॉल टिकट के बिना सेंटर पर पहुंचना

आपने सब्जेक्ट की तैयारी अच्छे से की है, लेकिन लास्ट आवर में आप बिना हॉल टिकट (प्रवेश पत्र) के एग्जाम सेंटर पर पहुंच जाते हैं,तो आपका उत्साह खटाई में पड़ जाता है। आप एग्जाम दे रहे हैं और आपका ऐडमिट कार्ड खो गया है, तो आप एक लिखित आवेदन लेकर जाएं और उनसे दोबारा ऐडमिट कार्ड देने को कहें। एग्जाम सेंटर पर पहुंचकर आपको इस बात का अहसास होता है कि आपने ऐडमिट कार्ड खो गया है तो आप धैर्य न खोए बिना इसकी सूचना एग्जाम सुपरवाइजर को दें। आप उनसे एग्जाम में बैठने की अनुमति मांगे। इसके साथ ही सेंटर के इन्वेजिलेटर को भी लेटर के जरिए इसकी जानकारी दें।

फोटो कॉपी जरूर रखें

आप अपने हॉल टिकट की फोटो कॉपी अपने साथ जरूर रखें। इसके साथ ही आप घर पर भी इसकी फोटो कॉपी रखें और घर के सदस्यों को इसके बारे में बता दें कि आपने कहां पर इसे रखा है। फोटो कॉपी से आपको एग्जाम में शामिल होने की अनुमति मिल जाएगी। एग्जाम देकर निकलें तो सेंटर में एक लिखित पत्र दें कि अगले दिन आप मूल हॉल टिकट के साथ आएंगे। बेहतर तो यही होगा कि आप पैरंट्स से एग्जाम खत्म होने से प्रवेश पत्र लेकर आने को कहें।

क्वेस्चन पेपर देर से मिला हो


आप एग्जाम सेंटर पर लेट से पहुंचे हैं और आपको क्वेस्चन पेपर देर से मिला हो तो प्रेशर बढ़ जाता है। ऐसे में आप इन्वेजिलेटर से कहें कि वह आपको कुछ अधिक समय दे। आपका केस सही है तो आपको अतिरिक्त टाइम मिल सकता है।

कोई कागज आपके आसपास हो

एग्जाम हॉल में कोई कागज आपके आसपास गिरा हुआ हो तो इसकी सूचना तुरंत इन्वेजिलेटर को दें। ऐसा न करने की सूरत में आपको एग्जाम में दोषी माना जा सकता है। कुल मिलाकर एग्जाम में जाने से पहले ही इन बातों पर गौर कर लें। इससे आप परेशानियों से बच सकते हैं।

सिविल जज 2019 का प्री एग्जाम देने वाले अभ्यर्थियों को राहत, हाईकोर्ट ने बढ़ाई मेन्स की डेट, 255 नये नाम जुड़े

इंदौर – मध्‍य प्रदेश सिविल जज 2019 का प्री एग्जाम (MP Civil Judge 2019 Pre Exam) देने वाले अभ्यर्थियों के लिए राहत भरी खबर है. मध्य प्रदेश हाइकोर्ट (Madhya Pradesh High Court) ने चयन सूची में 255 नये परीक्षार्थियों के नाम जोड़ दिए हैं. इसके अलावा परीक्षा की तारीख भी आगे बढ़ा कर 28 और 29 अगस्त 2021 कर दी है. दरअसल मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय ने मार्च 2021 में सिविल जज प्री एग्जाम का संचालन किया था, जिसका परिणाम मई 2021 में घोषित किया गया, लेकिन परीक्षा में पूछ गए 19 प्रश्नों में सुधार के लिए अभ्यर्थियों ने अलग-अलग याचिका हाइकोर्ट के खिलाफ ही दायर की थी, जिस पर सुनवाई करते हुए 14 जुलाई 2021 को कोर्ट ने दो रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में जांच के लिए कमेटी का गठन किया था.

बहरहाल, दो रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में बनी जांच कमेटी ने दो हफ्ते की जांच के बाद 6 प्रश्नों में गलती सुधार किया है. कमेटी की अनुशंसा पर मध्य प्रदेश हाइकोर्ट ने 255 नये अभ्यर्थियों को राहत देते हुए उन्हें सिविल जज मेन्स परीक्षा के लिए पात्र माना है. अब परीक्षार्थी 24 अगस्त तक मुख्य परीक्षा के लिए फार्म जमा कर सकते हैं. अधिवक्ता राघवेन्द्र सिंह रघुवंशी ने कहा कि इस फैसले को नजीर के तौर पर देखा जा रहा है, क्योंकि कोर्ट ने खुद की परीक्षा प्रणाली में सुधार करते हुए परीक्षार्थियों को मौका दिया है.

अभ्यर्थियों को मिलेगा फायदा

बहरहाल न्यायालय से मिली राहत के बाद यह तय माना जा रहा है कि कई ऐसे अभ्यर्थियों को लाभ मिलने वाला है, जिन्होंने मुख्य परीक्षा में शामिल होने की उम्मीद ही छोड़ दी थी. अब वह सिविल जज के मुख्य इम्तिहान में शामिल होकर एक बार अपना भाग्य जरूर आजमा सकते हैं.

गौरतलब है कि इससे पूर्व यह परीक्षा भी व्यापमं के माध्यम से ही आयोजित करवाई जाती थी, लेकिन कुछ समय पहले व्यापमं में उजागर हुई कमियों के बाद उच्च न्यायालय ने पारदर्शिता और विश्वनीयता बनाये रखने के लिए यह परीक्षा खुद करवाने का निर्णय लिया था.

CBSE Board: सीबीएसई 10वीं, 12वीं रिजल्ट से असंतुष्ट छात्र करा सकते हैं अपने नंबरों का मूल्यांकन

जो छात्र 10वीं और 12वीं सीबीएसई के परिणाम से असंतुष्ट हैं, वे अपने प्रदर्शन का आकलन करवा सकते हैं। इसके लिए सीबीएसई ने विवाद समाधान नीति जारी की है। ऐसे में कक्षा 10 और 12 से असंतुष्ट छात्र अपने ग्रेड का सत्यापन कर सकते हैं। इसके लिए छात्रों को अपने-अपने स्कूलों में पंजीकरण कराना होगा।अब तक विभिन्न मीडिया और समाचारों के अनुसार, जो छात्र अपने नंबरों से संतुष्ट नहीं हैं, वे प्राचार्य से परिणाम सत्यापित करने के लिए कह सकते हैं। उसके बाद, परिणाम समिति इसकी समीक्षा करेगी। यदि समिति को सही परिणाम नहीं मिलता है, तो वे इसके लिए सीबीएसई क्षेत्रीय कार्यालय को एक विवरण प्रस्तुत करेंगे, जिसे मुख्य कार्यालय को भेजा जाता है। यदि क्षेत्रीय कार्यालय परिणाम को गलत मानता है, तो उसे भेजा जाएगा, और तीन-व्यक्ति समिति विवाद का समाधान करेगी और परिणाम को तीन-व्यक्ति समिति को प्रस्तुत करेगी। समिति सीबीएसई के वरिष्ठ अधिकारियों और उनके संबंधित स्कूलों के सेवानिवृत्त प्राचार्यों से बनी है, जो परिणाम पर विवादों का समाधान करेंगे। रिजल्ट तैयार करने की पूरी प्रक्रिया की जांच के बाद स्कूल छात्रों को जवाब देगा.

एमपी पीसीएस सहायक प्रबंधक के पदों पर आवेदन की अंतिम तिथि नजदीक, जानें डिटेल

नई दिल्ली- MPPSC Recruitment 2021. मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (Madhya Pradesh Public Service Commission) की ओर से सहायक प्रबंधक (Assistant Manager) के पदों पर भर्तियां (MPPSC Recruitment 2021) निकाली गई हैं. इन पदों के लिए 16 जुलाई 2021 से आवेदन की प्रक्रिया जारी है. आवेदन की अंतिम तिथि में कुछ दिन का समय शेष है. ऐसे में जिन अभ्यर्थियों ने अभी तक इन पदों के लिए आवेदन नहीं किया है. वह आधिकारिक वेबसाइट mppsc.nic.in के जरिए 15 अगस्त 2021 तक आवेदन कर सकते हैं. कुल 63 रिक्त पदों पर भर्तियां की जाएगी.

MPPSC Recruitment 2021 – आरक्षित पदों की संख्या

  • जनरल-17 पद
  • एससी-10 पद
  • एसटी-13 पद
  • ओबीसी-17 पद
  • ईडब्ल्यूएस-6 पद

MPPSC Recruitment 2021 – शैक्षणिक योग्यता

इन पदों के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थी के पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए.

MPPSC Recruitment 2021 – आयु सीमा

इन पदों पर आवेदन करने वाले अभ्यर्थी की उम्र 21 वर्ष से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए.

MPPSC Recruitment 2021 – चयन प्रक्रिया

इन पदों पर अभ्यर्थियों का चयन ऑनलाइन लिखित परीक्षा के आधार पर किया जाएगा. अभ्यर्थी इश भर्ती से संबंधित अधिक जानकारी के लिए जारी आधिकारिक नोटिफिकेशन को देख सकते हैं.

 MPPSC Recruitment 2021 – आवेदन फीस

सामान्य व अन्य वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए 1000 रुपए और एससी, एसटी व ओबीसी वर्ग के अभ्यर्थिों के लिए 500 रुपए आवेदन फीस निर्धारित की गई है.

MPPSC Recruitment 2021 – महत्वपूर्ण तिथियां

ऑनलाइन शुरू होने की तिथि – 16 जुलाई 2021
ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि – 15 अगस्त 2021
ऑनलाइन आवेदन में सुधार की तिथि – 21 जुलाई 2021 से 17 अगस्त 2021
ऑनलाइन परीक्षा की तिथि – 24 अक्टूबर 2021
आधिकारिक वेबसाइट – mppsc.nic.in

आज दोहपर 12 बजे आएगा एमपी बोर्ड 12वीं का रिजल्ट, ऐसे चेक कर पाएंगे नतीजे

भोपाल – मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल 12वीं कक्षा का रिजल्ट आज जारी करेगा. इसी के साथ एमपी बोर्ड 12वीं के करीब 7.50 लाख छात्र-छात्राओं का रिजल्ट को लेकर इंतजार खत्म हो जाएगा. रिजल्ट की घोषणा एमपी के शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार दोपहर 12 बजे करेंगे. इस बार एमपी बोर्ड ने 12वीं का रिजल्ट 10वीं के ‘बेस्ट ऑफ फाइव सब्जेक्ट’ फॉर्मूले के आधार पर तैयार किया है. इसमें 10वीं कक्षा के पांच सबसे अच्छे परफॉर्मेंस वाले सब्जेक्ट के मार्क्स लिए गए हैं.

एमपी बोर्ड के अनुसार 12वीं का रिजल्ट आधिकारिक वेबसाइट mpbse.nic.in या mpresults.nic.in पर भी चेक कर सकेंगे. रिजल्ट जारी होने के बाद बोर्ड आधिकारिक पोर्टल पर लिंक एक्टिव कर देगा. एमपी बोर्ड 12वीं के छात्रों को सलाह है कि वह अपना रोल नंबर और जन्मतिथि आदि जरूरी जानकारी पहले से तैयार रखें. ताकि घोषणा होते ही अपने नतीजे देख सकें.

एमपी बोर्ड 12वीं में इस बार कोई छात्र फेल नहीं किया जाएगा. साथ ही पहली बार मेरिट लिस्ट भी जारी नहीं की जाएगी. तीन कैटेगरी प्रथम श्रेणी,द्वितीय-तृतीय श्रेणी में ही रिजल्ट घोषित किया जाएगा 

ऐसे चेक कर पाएंगे एमपी बोर्ड 12वीं का रिजल्ट

एमपी बोर्ड का परिणाम चेक करने के लिये सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट mpresults.nic.in पर जाएं.

होमपेज पर दिये गए रिजल्‍ट लिंक MPBSE Class 12 Result 2021 पर क्‍ल‍िक करें.

एक नया पेज खुलेगा. यहां आपको क्रेडेंशियल भरना होगा.

MPBSE Class 12 Result 2021 स्‍क्रीन पर आ जाएगा.

रिजल्‍ट (MPBSE 12t Result 2021) डाउनलोड करें और उसका प्रिंट आउट लें.

MP Board Class 12 Result 2021: पहली बार नहीं जारी होगी मेरिट लिस्ट, टॉप 10 स्टूडेंट्स की नही होगी घोषणा

भोपाल – मध्यप्रदेश में कक्षा 12वीं का रिजल्ट आज घोषित होगा.कोरोना संक्रमण के कारण इस बार कक्षा 12वीं की परीक्षा रद्द कर दी गई थी. परीक्षाओं के रद्द होने के कारण ऐसा पहली बार हो रहा है जब मेरिट लिस्ट जारी नहीं की जा रही है.कक्षा 12वीं के रिजल्ट में पहली बार टॉपर स्टूडेंट्स की घोषणा नहीं की जा रही है.

दूसरी बार स्टूडेंट्स के बिना होगा रिजल्ट घोषित

कक्षा 12वीं के रिजल्ट में ऐसा दूसरी बार हो रहा है, जब रिजल्ट घोषित होते समय स्टूडेंट्स मौजूद नहीं रहेंगे. छात्र-छात्राओं की उपस्थिति के बिना ही इस बार रिजल्ट घोषित किया जाएगा.बीते साल भी छात्र-छात्राओं की उपस्थिति के बिना ही कक्षा 12वी का रिजल्ट घोषित किया गया था.इस बार भी कोरोना से सुरक्षा के कारण स्टूडेंट्स को भोपाल नहीं बुलाया जा रहा है.

हर बार सीएम हाउस में आयोजित होता था कार्यक्रम

बीते 2 सालों से टॉपर स्टूडेंट को राजधानी भोपाल नहीं बुलाया जा रहा है.एमपी बोर्ड हर साल टॉप टेन में आने वाले स्टूडेंट्स और उनके माता-पिता को राजधानी भोपाल बुलाता था.टॉपर स्टूडेंट और माता-पिता की उपस्थिति में ही मुख्यमंत्री निवास में रिजल्ट घोषित किया जाता था. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में बोर्ड परीक्षाओं का रिजल्ट घोषित किया जाता था.बीते 2 साल से कोरोना संक्रमण के चलते छात्र छात्राओं का रिजल्ट बेहद सामान्य तरीके से घोषित किया जा रहा है.इस बार भी सामान्य तरीके से स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार माध्यमिक शिक्षा मंडल के दफ्तर में ऑनलाइन रिजल्ट जारी करेंगे.

10वीं के बेस्ट ऑफ फाइव सब्जेक्ट के आधार पर तैयार हुआ रिजल्ट

कोरोना संक्रमण के चलते इस बार  कक्षा 12वीं की परीक्षा निरस्त हुई थी.रिजल्ट का पैटर्न भी मंत्री समूह की टीम और एक्सपर्ट की टीम ने 10वीं के बेस्ट ऑफ फाइव सब्जेक्ट2 से तैयार किया था.पहली बार 12वीं कक्षा में मेरिट लिस्ट जारी नहीं की जा रही है. इस बार सिर्फ प्रथम श्रेणी,द्वितीय श्रेणी और तृतीय श्रेणी कैटेगरी में ही रिजल्ट घोषित किया जा रहा है.

JEE Main admit card: जेईई मेन एग्जाम के एडमिट कार्ड जारी, ये रहा डाउनलोड लिंक :

JEE Main April 2021 admit card download: इंजीनियरिंग यूजी कोर्सेज़ में एडमिशन के JEE Main परीक्षा का तीसरा सत्र JEE Main session 3) 20 जुलाई से शुरू हो रहा है। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने इसके लिए एडमिट कार्ड जारी कर दिये हैं। एडमिट कार्ड डाउनलोड करने के तीन अलग-अलग लिंक्स एक्टिव किये गये हैं। आप इनमें से किसी पर भी क्लिक करके एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।

जेईई मेन अप्रैल 2021 एडमिट कार्ड (JEE Main April 2021) के लिए आप सीधे एनटीए जेईई मेन की वेबसाइट jeemain.nta.nic.in या फिर एनटीए की वेबसाइट nta.ac.in विजिट कर सकते हैं। इसके अलावा आप इस खबर में आगे दिये गये डायरेक्ट लिंक पर क्लिक करके भी आसानी से अपना एडमिट कार्ड प्राप्त कर सकते हैं।

एनटीए द्वारा जेईई मेन अप्रैल 2021 की परीक्षा 20, 22, 25 और 27 जुलाई को देश और विदेश के 334 शहरों में ऑनलाइन मोड पर आयोजित की जाएगी। आप अपना एप्लीकेशन नंबर और जन्मतिथि की जानकारी भरकर अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। आपकी परीक्षा कब होगी? परीक्षा का समय क्या होगा? परीक्षा केंद्र कहां होगा? इन सभी की जानकारी और एग्जाम के लिए दिशानिर्देश आपके एडमिट कार्ड पर दिये गये होंगे।

जेईई मेन हेल्पलाइन (JEE Main Helpline)

एनटीए ने एडमिट कार्ड के संबंध में नोटिस भी जारी किया है। इसमें बताया गया है कि आपको एडमिट कार्ड के साथ-साथ अंडरटेकिंग भी डाउनलोड करनी है। अगर किसी अभ्यर्थी को एडमिट कार्ड और अंडरटेकिंग डाउनलोड करने में कोई दिक्कत आती है, तो वह एनटीए से 011-40759000 पर संपर्क कर सकता है। स्टूडेंट्स jeemain@nta.ac.in पर ईमेल करके भी संपर्क कर सकते हैं।

एनटीए ने साफ किया है कि किसी भी कैंडिडेट को पोस्ट के जरिये एडमिट कार्ड नहीं भेजा जाएगा। जिन स्टूडेंट्स ने एक से ज्यादा आवेदन फॉर्म भर दिये थे, उनके एडमिट कार्ड रोक लिये गये हैं। ऐसे स्टूडेंट्स को एनटीए से jeemain@nta.ac.in पर संपर्क करने की सलाह दी गई है। जेईई मेन के चौथे सत्र यानी जेईई मेन मई 2021 (JEE Main May 2021) के एडमिट कार्ड बाद में जारी किये जाएंगे।

NEET PG 2021 : नीट पीजी की परीक्षा 11 सितंबर को, स्वास्थ्य मंत्री ने की यह घोषणा :

मेडिकल के पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सेज़ में एडमिशन (Medical PG admission) के लिए होने वाली प्रवेश परीक्षा नीट पीजी (NEET PG) की तारीख घोषित कर दी गई है।नीट पीजी एग्जाम 2021 (NEET PG 2021) का आयोजन 11 सितंबर 2021 को किया जाएगा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री (Health Minister) मनसुख मांडविया (Mansukh Mandaviya) ने परीक्षा की तारीख की घोषणा की है।

लंबे समय से अभ्यर्थी इस परीक्षा की तारीख की घोषणा का इंतजार कर रहे थे। कोरोना महामारी के काहण पहले भी यह परीक्षा स्थगित की जा चुकी है। इस मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम के जरिये देश के विभिन्न मेडिकल कॉलेजों (Medical Coleges in India) में एमडी, एमएस और पीडी डिप्लोमा कोर्सेज़ में एडमिशन मिलता है।

नीट पीजी एग्जाम (NEET PG Exam) का आयोजन नेशनल बोर्ड ऑफ एग्जामिनेशन (NBE) द्वारा किया जाता है।

बता दें कि एक दिन पहले ही केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने मेडिकल यूजी एंट्रेंस एग्जाम नीट यूजी 2021 (NEET UG 2021) की तारीख की घोषणा की थी। यह नीट परीक्षा 12 सितंबर 2021 को ली जाएगी। इसके लिए 13 जुलाई से आवेदन की प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है।

14 जुलाई को आएगा 10वीं का रिजल्ट, जानें पूरी डिटेल :

भोपाल –  मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (एमपी बोर्ड) की कक्षा 10वीं का रिजल्ट 14 जुलाई को जारी होगा. काफी दिनों से परीक्षार्थियों को रिजल्ट का इंतजार था. एमपी बोर्ड 14 जुलाई को शाम 4 बजे परीक्षा परिणाम जारी करेगा.

परीक्षा हुई थी रद्द

मध्यप्रदेश में कक्षा 10वीं की परीक्षा कोरोना के कारण रद्द कर दी गई थी. अब 14 जुलाई को रिजल्ट जारी किया जाएगा. यह रिजल्ट आंतरिक मूल्यांकन रिवीजन टेस्ट और प्री बोर्ड परीक्षा के आधार पर तैयार किया गया है.

यहां देखें रिजल्ट

इसे एमपी बोर्ड की के आधिकारिक पोर्टल के अलावा न्यूज 18 हिंदी की वेबसाइट https://www.news18.com/ पर भी चेक कर सकेंगे. बता दें कि एमपी बोर्ड ने कोरोना महामारी के कारण 10वीं 12वीं की परीक्षाएं रद्द कर दी थीं. इन कक्षाओं का रिजल्ट आंतरिक मूल्यांकन रिवीजन टेस्ट और प्री बोर्ड परीक्षा के आधार पर तैयार किया जा रहा है.