नई दिल्ली : लोकसभा चुनाव में अब कम वक्त बचा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रचार में लगे हैं। कई परियोजनाओं का शिलान्यास, उद्घाटन जोरों पर है। प्रधानमंत्री उन क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं जहां पार्टी कमजोर है। पिछले 3 हफ्ते में पीएम मोदी की यह तीसरी यात्रा होगी जब वह ओड़िशा में होंगे। इस यात्रा की चर्चा जोरों पर है, पीएम मोदी आखिर क्यों बार- बार ओड़िशा दौरे पर जा रहे हैं।

चर्चा है कि पीएम मोदी ओड़िसा संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़ सकते हैं, इस यात्रा को उनकी चुनावी रणनीति से जोड़कर देखा जा रहा है। लोकसभा के साथ- साथ यहां विधानसभा चुनाव भी होने हैं। भाजपा यहां प्रचार के जरिये लोकसभा और विधानसभा दोनों चुनावों पर अपनी रणनीति बना रही है। पीएम मोदी आचार संहिता लागू होने से पहले यहां कई योजनाओं का वादा कर सकते हैं. ध्यान रहे कि लोकसभा की ओड़िशा में 21 सीटें हैं इन सीटों में भाजपा ने पिछली बार सिर्फ एक सीट पर कब्जा किया था। बीजू जनता दल ने 20 सीटों पर। विधानसभा चुनाव में पार्टी की जीत का आकड़ा समझे तो बीजू जनता दल ने पिछली बार 147 सीटों में से 117 सीटें जीती थी।

भाजपा इन जीत के आकड़ों को बदलने में लगी है। पार्टी यह अच्छी तरह जानती है कि पीएम मोदी के प्रचार का असर पड़ेगा। पिछली बार पीएम मोदी ने लोकसभा चुनाव बनारस से लड़ा था और यूपी में उन्हें भारी सफलता मिली थी। भाजपा यही फार्मूला ओड़िशा में दोहराने की योजना बना सकती है। पीएम मोदी बनारस दौरे पर हैं अपने संसदीय क्षेत्र में आखिरी बार पिछले साल 29 दिसंबर को दौरा किया था। वह सितंबर से दिसंबर तक 3 बार वाराणसी का दौरा कर चुके हैं। इस क्षेत्र में भी पीएम मोदी बार- बार दौरा कर रहे हैं यानि भाजपा इस इलाके में भी अपनी पकड़ ढिली नहीं करना चाहती। प्रवासी भारतीय सम्मेलन में भी पीएम मोदी के शामिल होने की चर्चा है।

15 जनवरी को प्रस्तावित दौरे में पीएम मोदी 1,545 करोड़ रुपये से अधिक योजनाओं की शुरुआत कर सकते हैं। इस यात्रा में कई केंद्रीय योजनाओं की घोषणा संभव है। खबर है कि बलनगिर में एक कार्यक्रम में ज्यादातर परियोजनाओं का अनावरण किया जाना है। इनमें से ज्यादातर परियोजनाएं रेलवे क्षेत्र की होंगी। बलानगिर में प्रधानमंत्री मोदी झारसुगुडा-विजीनगरम और सम्बलपुर-अंगुल की 813 किलोमीटर लंबी लाइन का विद्युतिकरण का भी उद्घटान करेंगे। इसके अतिरिक्त मोदी सिद्धदेश्वर मंदिर सहित कुछ मंदिरों के जीर्णोद्धार कार्य का भी शुभारंभ करेंगे। पीएम मोदी के दौरे के ठीक दिन बाद इस क्षेत्र का दौरा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह करेंगे। 18 जनवरी को शाह अपने दौरे में वह कटक में बीजेपी के बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे।