बीजिंगः एक जैसा चेहरा होना चीन के तोगशांग शहर में रहने वाले एक व्यक्ति के लिए काफी फायदेमंद साबित हुआ। इस शहर में एक ग्रॉसरी स्टोर चलाने वाले 39 साल के वु शुएलिन का चेहरा अलीबाबा के मालिक जैक मा से मिलता है। इन्हें देखकर कई बार लोग उन्हें असली जैक मा समझ लेते हैं। इसका फायदा यह हुआ कि पूरे चीन में उनकी लोकप्रियता तेजी से बढ़ रही है। इसके चलते उनका बिजनेस भी तेजी से बढ़ रहा है। सोशल मीडिया पर पिछले कुछ ही समय में उनके फॉलोअर्स की संख्या 13.5 लाख के पार हो गई है। यहां तक की उनके साथ सेल्फी खिंचाने के लिए लोग दूर-दूर से आने लगे हैं। अपनी बढ़ती लोकप्रियता के बाद उन्होंने सोशल मीडिया पर अपना नाम बदल कर लिटिल जैक मा लिख लिया है।

शुएलिन को देखने के ‌लिए लोग दूर-दराज के इलाकों से तोगशांग शहर पहुंच रहे हैं। इसके कारण उनका बिजनेस दिन पर दिन बढ़ता ‌ही जा रहा है। शुएलिन ने एक रिपोर्ट में बताया कि कई बार लोग स्टोर पर पहुंचकर भ्रमित हो जाते हैं और मुझे जैक मा समझ लेते हैं। इसके बाद लोगों के बीच सेल्फी लेने की होड़ सी लग जाती है। उनका कहना है कि कुछ कस्टमर्स खरीददारी के दौरान उन्हें मालिक जैक मा भी बुलाने लगते हैं। शुएलिन का कहना है कि जैक मा जैसा दिखना उनके लिए काफी खुशी और गर्व की बात है। इस मामले में खास बात तो यह है कि शुएलिन की कहानी जैक मा के पास भी पहुंच चुकी है। जैक ने शुएलिन को दुकान के लिए मदद का भी प्रस्ताव दिया है। हालांकि, शुएलिन ने उनके प्रस्ताव को ठुकरा दिया। शुएलिन का कहना है कि वह अपना ग्रॉसरी स्टोर छोड़कर कहीं नहीं जाएंगे। अपनी मेहनत और ईमानदारी से अपने बिजनेस को बढ़ायेगें।

जैक मा के लिए दीवाने हैं उनके चाहने वाले

चीन में अलीबाबा कंपनी के मालिक और टेक आंत्रप्रेन्योर जैक मा कि लोप्रियता इसी बात से लगाई जा सकती है, कि हुआंग नाम के एक आदमी ने उनके जैसा दिखने के लिए अपनी प्लास्टिक सर्जरी तक करा ली। इसके लिए उसने 1 करोड़ रुपए तक खर्च कर दिए थे। इसके अलावा 9 साल के एक लड़के के भी जैक मा जैसे दिखने के दावे हो चुके हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, सोशल मीडिया पर बच्चे की तस्वीरें वायरल होने के बाद जैक ने उसकी पढ़ाई का खर्च उठा लिया है।